पोर्ट मोबाइल नंबर: अगर आप मोबाइल नंबर को पोर्ट करना चाहते हैं, तो यह मिनटों में काम करेगा, स्टेप्स देखें



हाइलाइट्स: एयरटेल टैरिफ प्लान ने कीमतों में वृद्धि की, मोबाइल नंबर पोर्ट करने का एक आसान तरीका सरल सुझावों का पालन करके काम करेगा नई दिल्ली: एयरटेल प्लान की दरें 26 नवंबर से बढ़ेंगी वहीं, Vodafone Idea की बात करें तो कंपनी के प्लान की कीमत कल यानी 25 नवंबर से बढ़ जाएगी। एयरटेल के प्लान पहले से ही काफी महंगे थे। अभी भी कई यूजर्स इसका इस्तेमाल कर रहे थे। लेकिन अब कंपनी महंगे प्लान्स की कीमतों में इजाफा करने जा रही है। ऐसे यूजर्स कंपनी छोड़कर दूसरी टेलीकॉम कंपनी में जा सकते हैं। वी के साथ भी ऐसा ही हो सकता है। क्योंकि जिस तरह से एयरटेल और वीआई प्लान की कीमत बढ़ाने की बात कही जा रही है, उसी तरह कुछ यूजर्स अपने टेलीकॉम प्रोवाइडर्स को बदलने में सक्षम नजर आ रहे हैं। इस प्रक्रिया को एमएनपी (मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी) कहा जाता है। अगर आप अपना टेलिकॉम प्रोवाइडर बदलने की सोच रहे हैं तो हम आपको पूरा तरीका बता रहे हैं। आइए जानें कि नंबर को कैसे पोर्ट करें। नंबर को इस तरह पोर्ट करें: अगर आप एयरटेल से किसी अन्य नेटवर्क पर स्विच करना चाहते हैं, तो आपको कुछ चरणों का पालन करना होगा: सबसे पहले आपको नंबर पोर्ट करने के लिए यूपीसी जेनरेट करना होगा। UPC का मतलब यूनिक पोर्टिंग कोड है। मैसेज में आप PORT (स्पेस) मोबाइल नंबर लिखना चाहते हैं, तो आपको इसे 1900 नंबर पर भेजना होगा। मैसेज भेजने के बाद आपको एक मैसेज मिलेगा जिसमें UPC दिया जाएगा उसके बाद आप जिस टेलीकॉम ऑपरेटर से जुड़ना चाहते हैं, उसके ऑफिसियल आउटलेट पर जाना होगा। फिर उन्हें यूपीसी कोड देना होगा और आईडी का प्रमाण देना होगा। इसके बाद बायोमेट्रिक प्रोसेसिंग की जाएगी। फिर आपको एक नई सिम दी जाएगी। 7 दिन में एक्टिव हो जाएगा यह सिम.पढ़ें: WhatsApp अलर्ट: समय रहते रहें सावधान, WhatsApp जैसा दिखने वाला ऐप कर सकता है बड़ा नुकसान: वाई-फाई टिप्स: लगातार वाई-फाई पासवर्ड भूलने वालों के काम आएंगे ये टिप्स ये 15 ऐप्स, नहीं तो होगा नुकसान



Source link

Leave a Comment